Narayan Ram Kakar

From Jatland Wiki
Jump to navigation Jump to search

नारायणराम काकड़ (1952-1971) (Narayan Ram Kakar) का जन्म राजस्थान के बाड़मेर जिले की बायतू तहसील के नोसर गाँव में 1952 में गुलाराम चौधरी और नेनू देवी के घर हुआ. गाँव में शिक्षा की अनुकूल व्यवस्था न होते हुए भी आपने प्राथमिक तक शिक्षा प्राप्त की.

नारायणराम काकड़ का चयन भारतीय थल सेना में मार्च 1971 में राजपूताना राइफल्स में बतौर राइफ़ल्मैन नं. 2864393 हुआ. उनकी शादी नहीं हुई थी. आपको उस समय कश्मीर मोर्चे पर तौनत किया गया.

3 दिसंबर 1971 को पाकिस्तान ने भारत पर हमला किया. उस समय नारायणराम काकड़ कश्मीर सीमा पर पदस्थ थे. यहाँ पर वीरता की मिसाल कायम करते हुए दुश्मन के सैनिकों को पछाड़ते हुए 10 दिसंबर 1971 को शहीद हुए. आपने युद्ध में दुश्मन के सामने भारतीय जवानों की वीरता का एक उदहारण पेश किया. युद्ध के जारी रहने से उनका पार्थिव शरीर गाँव नहीं लाया जा सका. युद्ध क्षेत्र में ही अंतिम संस्कार किया गया.

सन्दर्भ

  • जोगाराम सारण: बाड़मेर के जाट गौरव, खेमा बाबा प्रकाशन, गरल (बाड़मेर), 2009 , पृ. 102-103

Back to The Brave People/Back to The Martyrs [[Category:The Martyrs From Barmer]