Ibrahimpur

From Jatland Wiki
Jump to navigation Jump to search

Ibrahimpur (इब्राहिमपुर) is a village in Tehsil Khurja of Bulandshahr district in Uttar Pradesh.

Location

It is near Khurja. आसपास के गांव - जलालपुर , छपना , लौदाना , डासोली , जवां ,

History

शोयदान सिंह (शिवध्यानसिंहजी) और विक्रमसिंह भाई-भाई थे। अंग्रेजों द्वारा उनको क्रमश: राय साहब और राय बहादुर की उपाधि से सम्मानित किया था. इनके और भाई गिरिर्राजसिंह , गुलजारसिंह और गुलवीरसिंह थे। चन्द्रराजसिंह, ब्रजराजसिंह के पुत्र और गुलवीरसिंह के पौत्र हैं, जो आजकल पिसावा में रहते है।

चन्दराज सिंह आज पिसावा के मुखिया है । वे घोड़ों के अंतरराष्ट्रीय व्यापारी है । उनके एक पूर्वज स्वरुप सिंह ने इब्राहिमपुर (ख़ुर्जा) गाँव में जागीरी प्राप्त की थी । उनके सात लड़के थे । इब्राहिमपुर पर तोमर जाटो से पहले अत्री जाटों का राज था । स्वरूपसिंह जी ने अत्री जाटों को युद्ध में हराकर इब्राहिमपुर और शेरपुर की रियासत पर कब्ज़ा कर लिया । तक से अत्री जाट और शेरपुर व इब्राहिमपुर गाँव के तोमरों में शादी नहीं होती है । तोमर जाटो ने चाबुक से ब्राह्मण को पीटा था, इसलिए इन लोग को अलीगढ में चाबुक के रूप में जाना जाता है ।

Jat Gotras

Notable persons

  • [Fl. Lt. Y.S Tomar - (Martyred in MI 17 Crash)] -
  • राजवीरसिंह ( से.नि.प्रिन्सीपल )
  • जयपालसिंह ( से.नि. मास्टर )
  • भोपालसिंह
  • चरनसिंह के 5 पुत्र - होशियारसिंह , किशनसिंह , सतपालसिंह ,बहादुरसिंह , - - - -(दिल्ली निवास)
  • सरदारसिंह के पुत्र - करनवीरसिंह व नैपालसिंह
  • रामस्वरूप सिंह के पुत्र रनवीरसिंह

Gallery

External links

Other Ibrahimpur villages

References


Back to Jat Villages