Indore

From Jatland Wiki
Jump to navigation Jump to search
Author:Laxman Burdak, IFS (R)

District map of Indore
For similar name in Uttar Pradesh see Indor

Indore (इंदौर) is a city and district in Madhya Pradesh. It is known as mini Bombay of Madhya Pradesh. A highly commercial city, people are simple and famous for their taste. All types of tasty food is available here. It is Software and Real estate hub of the State (M.P.).

Variants

  • Indore (इंदौर) (म.प्र.) (AS, p.74)
  • Indrapura (इंद्रपुर) (AS, p.74)
  • Indur (इन्दुर)

Tahsils in Indore District

Jat Gotras

History

इन्दौर

विजयेन्द्र कुमार माथुर[1] ने लेख किया है ... इन्दौर (AS, p.74) होल्कर-नरेशों की भूतपूर्व रियासत तथा उसकी राजधानी है। इस नगर को अहिल्याबाई ने 18वीं सदी में बसाया था। इसका नाम यहां स्थित इंद्रेश्वर के प्राचीन मंदिर के कारण इंद्रपुर या इंदौर हुआ था। इंदौर के होलकर नरेशों ने विशेषतः जसवंतराव होल्कर ने अंग्रेजों के भारत में अपने साम्राज्य की जड़ें जमाने के समय उनका काफी विरोध किया था किंतु इन्होंने पार्श्ववर्ती राजपूत नरेशों के राज्य में काफी लूटमार मचाई थी। जिसके कारण उनकी सहानुभूति इन्हें ना मिल सकी। इंदौर में होलकर नरेशों के प्राचीन प्रासाद उल्लेखनीय हैं।

इन्दौर परिचय

इन्दौर शहर, पश्चिमी मध्य प्रदेश राज्य, मध्य भारत में स्थित है। यह क्षिप्रा नदी की सहायक सरस्वती एवं ख़ान धाराओं पर स्थित है। स्‍वर कोकिला लता मंगेशकर का शहर इन्दौर हाल के दिनो में शिक्षा के केन्द्र के रूप में उभरा है। इसे मध्य प्रदेश की व्यावसायिक राजधानी के रूप में भी जाना जाता है। इन्दौर मालवा का सबसे बड़ा शहर है। ऐतिहासिक तथ्यों के अनुसार यह बहुत पुराना नगर नहीं है।

1715 के आसपास यह क्षेत्र ओंकारेश्वर से उज्जैन के मध्य यात्रा का एक खुशनुमा पड़ाव हुआ था। आज यह महानगर में तब्दील होता एक शहर है, जो मुम्बई का स्वरूप लेता जा रहा है। इसके नगर नियोजन की योजना सन् 1918 में सर पेट्रिकगेडेस ने बनाई, लेकिन इसकी विकास यात्रा 1818 में नगर-पालिका, 1878 में रेलवे, 1906 में बिजली और 1907 में टेलीफ़ोन के साथ शुरू हो गयी।[2]

1715 में स्थानीय ज़मींदारों ने इन्दौर को नर्मदा नदी घाटी मार्ग पर व्यापार केन्द्र के रूप में बसाया था। पहले इन्दौर का नाम इन्दुर था लेकिन 1741 ई. में बने इंद्रेश्वर मंदिर के कारण यहाँ का नाम इन्दौर पड़ा। यह मराठा होल्कर की पूर्व इन्दौर रियासत की राजधानी बन गया।

मध्य प्रदेश में स्थित प्रसिद्ध शहर इन्दौर को अठारहवीं सदी के मध्य में मल्हारराव होल्कर द्वारा स्थापित किया गया था। होल्कर ने दूसरे पेशवा बाजीराव प्रथम की ओर से अनेक लड़ाइयाँ जीती थीं। 1733 में बाजीराव पेशवा ने इन्दौर को मल्हारराव होल्कर को पुरस्कार के रूप में दिया था। उसने मालवा के दक्षिण-पश्चिम भाग को क़ब्ज़े में करके इन्दौर को अपनी राजधानी बनाया। उसकी मृत्यु के पश्चात् दो अयोग्य शासक गद्दी पर बैठे, किंतु तीसरी शासिका अहिल्या बाई (1765-1795 ई.) ने शासन कार्य बड़ी सफलता के साथ निष्पादित किया।

जनवरी 1818 में इन्दौर ब्रिटिश शासन के अधीन हो गया। यह ब्रिटिश मध्य भारत संस्था का मुख्यालय एवं मध्य भारत की ग्रीष्मकालीन राजधानी (1948-56) था। इन्दौर में होल्कर नरेशों के प्रासाद उल्लेखनीय हैं।

संदर्भ: भारतकोश-इंदौर

जात इतिहास

ठाकुर देशराज [3] ने लिखा है ..... [पृ.557]: हमें यह खेद के साथ स्वीकार करना पड़ता है कि इंदौर जाने का हमें अवकाश प्राप्त नहीं हुआ। हालांकि होल्कर राज्य में भी जाटों का फैलाव है। अनेकों प्रमुख जाट घराने वहां पर हैं। उनके पास जागीरें भी है। नीमच के पास केसरपुरा के ठाकुर रामबक्ष जी के पास इस राज्य में एक गांव है। यहां के कई भाई अच्छे कौमी सेवक हैं। इनमें से अंताजी ठेठ इंदौर में ही रहते हैं। देहातों में कुछ एक के संबंध की संक्षिप्त जानकारी इस प्रकार है।

History

Villages in Indore tahsil

Villages around Indore

Ambamolya, Ankya, Arandia, Aranya, Asakhedi, Asrawad Buzurg, Asrawad Khurd, Badia Hat, Badia Keema, Balya Kheda, Bangarda Bada, Baroda Daulat, Baroda Kara, Bawalya Buzurg, Bawalya Khurd, Begam Khedi, Berchha, Bhicholi Hapsi, Bhicholi Mardana, Bhokhakhedi, Bihdia, Bilawali, Bisan Khada, Bisanawada, Budhania, Burana Khedi, Chauhan Khedi, Chhitkana, Chikatiya, Dehri, Deoguradia, Dhamnay, Dharnawad, Dhaturia, Dhulet, Digwal, Dudhia, Fatan Khedi, Fulkaradiya, Garipipalya, Garya, Gehli, Ghudia, Goga Khedi, Gurda Khedi, Hansa Khedi, Hatod (NP), Higonya, Higonya Khurd, Indore (M Corp.), Jagmalpipalya, Jalod Keu, Jamburdi Hapsi, Jamnya Khurd, Jani, Jhalaria, Kacharod, Kajipalasiya, Kalaria, Kalmer Badi, Kalod Hala, Kalod Kartal, Kampel, Kanadia, Kapalya Khedi, Kevadia, Khandel, Kharadia Indore, Khatipiplya, Khatri Khedi, Khemana, Khudel Buzurg, Khudel Khurd, Kordia Barda, Lasudiya Anant, Lasudiya Mori, Limbodagari, Limbodi, Machla, Mali Badodia, Mali Khedi, Maya Khedi, Mirjapur, Moklai, Morod, Morodhat, Muhadi, Mundal Jetkaran, Mundi, Mundla Dosdar, Mundla Nayata, Nahar Jhabua, Nainod, Narlai, Nawda Panth, Nayapura, Nehru, Nignoti, Nihalpur Mundi, Nipanya, Palakhedi, Palda(CT), Panod, Pedmi, Phali, Pipalda, Pipalya Tafa, Piwday, Rajdhara, Ralamandal, Ramgarh, Ramu Khedi, Rangwasa, Rau (NP), Rinjlai, Rojadi, Sahu Khedi, Sanawadia, Sanawalya Khedi, Semalya Chau, Semalya Raimal, Set Khedi, Shahdadeo, Shakkar Khedi, Shakkar Khedi (Haran Khedi), Shiwni, Shri Ram Talawali (Kachra), Sindhi Baroda, Sindoda (Talawali Kachra), Sindodi, Sinhasa (CT), Songir, Songuradiya, Sonway, Sukhniwas, Talawali Chanda, Tigaria Badshah, Tigaria Rao, Tillor Buzurg, Tillor Khurd, Tinchha, Ujjaini, Umaria Khurd, Umri Kheda, Undal, Upadinatha,

Notable persons

  • Subhash Sihag - Industrialist, Mob:9425055507
  • Naresh Sihag - City President, Bharatiy Jat Kalyan Parishad, Mob:9893067158
  • Dr Chandan Brale - Indore, Mob:9425311348
  • Ch. Kisan Lal Sengwa - Adhyaksh Jat Panchayat Indore, Mob: 9303216191
  • Ram Chandra Beda - Ex. Adhyaksh Jat Panchayat Indore,
  • Ram Singh Soora - Adhyaksh Bharatiy Kisan Sangh Indore, Heer Singh Jat Soora Indore, Mob:9300963251.
  • Shambhu Lal Jakhar - Jat Road Lines, Indore, Mob:9039538265
  • Abhishek Beda - Pilot, Indore, Mob:7697701639, Om Prakash Beda, Indore, Mob:9826413031
  • S S Jawla - Bharat Insecticides Ltd, Indore, Dy GM, Mob:9630030020, Email:ssjawla@bharalgroup.co.in, ssjawla@yahoo.com
  • Ram Niwas Jat Gwala - Asst Engineer CPWD, Indore, Mob:9425072239
  • Satya Narayan Chavel - Indore, Mob:9754399300, 97550449300
  • Hira Lal Naga - Indore, Mob:9926596696[4]
  • Kishan Singh Sengwa - Adhyaksh Jat Panchayat, Pardeshipura, Indore, Mob: 9303216191
  • Rahul Jat - Gwala - Junior Engineer, Military Engineering Services, Mob: 9893193445

Gallery

External links

References

  1. Aitihasik Sthanavali by Vijayendra Kumar Mathur, p.74
  2. तिवारी, डॉ. स्वाति। इंदौर का पानी (हिन्दी) इंडिया वाटर पोर्टल (हिन्दी)।
  3. Thakur Deshraj:Jat Jan Sewak, 1949, p.557
  4. Jat Vaibhav Smarika Khategaon, 2010, p. 143

Back to Madhya Pradesh